नई गाड़ियों के इंजन को कुछ सालों के अंदर ही खुलवाना क्यो पड़ जाता है ?

नई गाड़ियों के इंजन को कुछ सालों के अंदर ही खुलवाना क्यो पड़ जाता है ?

engine repair in work shop
engine repair in work shop

दोस्तों आपने लोगों को अधिकतर यह बोलते जरूर सुना होगा की इस कंपनी का बाइक या स्कूटर का इंजन एक-दो साल में एक खुलवाना पड़ जाता है या इस कंपनी के बाइक का इंजन इतने किलोमीटर चलने के बाद खुलवाना पड़ जाएगा ।

जैसे बजाज की मोटरसाइकिलो में यह अफवाह ज्यादा फैली हुई है कि 10 से 15000 किलोमीटर में इसका इंजन खुलवाना पड़ता है । तो क्या दोस्तों इन अफवाहों में किसी प्रकार की कोई सच्चाई है ? आखिर क्यों लोगों को कुछ ही सालो अपने बाइक या स्कूटर के इंजनों में प्रॉब्लम्स आना शुरू हो जाता है ? चलिए आज इसी बात का पता करते हैं ।

सबसे पहले तो मैं आपको यह बता दूँ दोस्तों, आपका बाइक या स्कूटर किसी भी कंपनी का हो, 99% केसेस मे इंजन में प्रॉब्लम आने का कारण हम खुद ही होते हैं । 1% चांस होता है कि कंपनी द्वारा ही इंजन में कोई मैन्युफैक्चर डिफेक्ट हो गया हो । पर ऐसी क्या गलतियां है जो हम अक्सर नई बाइक या स्कूटर के साथ करते हैं । चलिए जान लेते हैं -

( 1 ) Safe Run in Period - 

दोस्तों हमें अपने बाइक या स्कूटर का पहला सर्विसिंग तक खास ख्याल रखना पड़ता है । सबसे पहले तो हमें नए बाइक को कभी भी 60 की स्पीड से ऊपर चलाना नहीं चाहिए । या कभी भी लगातार एक ही स्पीड में बाइक को चलाते रहना नहीं चाहिए । हमेशा स्पीड कम ज्यादा करते हुए चलाना चाहिए ।

जैसे अगर आप 50 की स्पीड से गाड़ी चला रहे हैं तो आप लगातार 50 की स्पीड में गाड़ी ना चलाएं । कभी 40 चलाएं, तो कभी 45, इस तरह स्पीड कम - ज्यादा करते हुए चलाने से इंजन पर एक्स्ट्रा लोड नहीं पड़ता । होता यूं है दोस्तों की नई गाड़ियों के इंजन में फ्रिक्शन अधिक लगता है । ऐसे में अगर बाइक चलाने को लेकर लापरवाही की जाए तो इंजन में प्रॉब्लम आने की संभावना बढ़ जाएगी ।

अगर आप शुरू के 1000 किलोमीटर तक अपने बाइक या स्कूटर के इंजन का ख्याल रखते हो तो इससे इंजन की लाइफ़ बढ़ जाएगी । चाहे आपके बाइक या स्कूटर कितने cc का भी हो ।

( 2 ) Engine Oil - 

इंजन को हेल्थी व सुरक्षित रखने में इंजन ऑयल यानी कि मोबिल का भी बहुत बड़ा योगदान है । आपको अपने गाड़ी में इंजन ऑयल डलाते समय हमेशा तीन चीजों की जानकारी होना जरूरी है ।

● grade - 

आपको अपने गाड़ी में किस ग्रेड का इंजन ऑयल डालना चाहिए यह बहुत इंपॉर्टेंट है । सही ग्रैड का इंजन ऑयल ना चुनने पर इंजन के परफॉर्मेंस में अंतर आ सकता है । ग्रेड में आप यह चेक कर सकते हैं कि हमें अपने गाड़ी में 5w40 या 10w50 जैसे नंबरों में हमारी गाड़ी के लिए कौन सा नंबर का ग्रेड सही रहेगा । इसके साथ ही साथ आप यह भी जानकारी जरूर रखें कि आपकी गाड़ी के लिए सेमी सिंथेटिक , फुल सिंथेटिक जैसे इंजन ऑइलो में कौन सा आपके गाड़ी के लिए बेस्ट रहेगा ।

● quantity of engine oil - 

हमें अपनी गाड़ी में इंजन की कैपेसिटी के अनुसार इंजन ऑयल डालना चाहिए, क्योंकि अगर हम ऑयल कम डालते हैं तो भी नुकसान होगा अगर हम ज्यादा डाल देंगे तो भी नुकसान होगा । कम डालने से नुकसान यह होगा कि इंजन बार-बार सीज ( गर्म होकर इंजन बंद हो जाना ) होगा । और अगर ज्यादा डाल देंगे तो इंजन को सही तरीके से कार्य करने में काफी मुश्किल होगी, जिससे फ्रिक्शन बढ़ जाएगा और इंजन भी गर्म होना शुरू हो जाएगा ।

● chenge oil in right KM - 

इंजन ऑयल आपको कितने किलोमीटर के अंदर में चेंज करना है, यह जानकारी भी आपको जरूर होनी चाहिए । इससे भी इंजन को एक्सेस लोड से बचाया जा सकता है ।

अगर आप इंजन ऑयल से संबंधित इन बातों का ख्याल रखेंगे तो आपको कभी भी समय से पहले आपको गाड़ी का इंजन खुलवाने की नौबत नहीं आएगी ।

( 3 ) Servicing in Right Time - 

सर्विसिंग अपनी गाड़ी के मुताबिक बताए गए किलोमीटर के अनुसार ही कराएं । अलग-अलग कंपनियों के गाड़ियों मे अलग-अलग किलोमीटर रेंज होता है । किसी गाड़ी में कंपनी आपको 5000 किलोमीटर पर सर्विसिंग कराने को कहती है तो किसी गाड़ी में 10000 किलोमीटर पर । सर्विसिंग जानकारी गाड़ी में दिए गए यूजर मेनुअल में आपको आसानी से मिल जाएगी । 

और एक बात मैं बताना चाहूंगा कि सर्विसिंग के द्वरान अगर आपके बाइक में कूलेंट वगैरह डालने की जरूरत हो तो इसे भी एक बार जरूर चेक कर लें । यह भी इंजन के लाइफ के लिए मोस्ट इंर्पोटेंट फैक्टर है ।

( 4 ) Right Gear in Right Speed - 

बहुत लोगों की यह आदत होती है की वह अपनी गाड़ी को कम गियर में ही हाई ऐकसिलेक्शन के साथ चलाते हैं । मैं आपको बताता हूं दोस्तों की यह किसी भी लिहाज से आपके नई गाड़ी के इंजन के लिए सही नहीं है । इससे इंजन के अंदर फ्रिक्शन बहुत ज्यादा बढ़ जाता है जो इंजन को कही न कही नुकसान ही पहुंचाता है । इसलिए हमेशा सही गियर में सही स्पीड के साथ ही गाड़ी चलाएं ।

( 5 ) Petrol - 

हमेशा अपनी इंजन के मुताबिक गाड़ी में पेट्रोल डलवाना सही रहता है । इसीलिए आप यह जरूर जानकारी रखें कि आपकी गाड़ी के लिए नॉर्मल पेट्रोल सही रहेगा या फिर प्रीमियम पैट्रोल सही रहेगा ? इसकी भी जानकारी आपको गाड़ी में दिए जाने वाले यूजर मेनुअल बुक में आसानी से मिल जाएगी ।

तो दोस्तों यह थे कुछ टिप्स जिसे अपनाकर आप अपनी नई बाइक या स्कूटर के इंजन को समय से पहले खुलने से बचा सकते हैं  । मुझे उम्मीद है कि दोस्तों आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, अगर दोस्तों आपके मन में किसी प्रकार का कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं । धन्यवाद ।


Previous
Next Post »